जीत आपकी : बिना थकावट सफलता पाने के आसान तरीके

how-to-win-shiv-khera-hindi
शिव खेड़ा ने कई किताबें लिखीं जिन्होंने उन्नत जीवन जीने और सफलता के गुर सिखाये हैं.

शिव खेड़ा को कौन नहीं जानता। उनकी किताब ‘यू कैन विन’ ने दुनिया भर में चर्चा हासिल की है। उसका हिन्दी अनुवाद ‘जीत आपकी’ खूब बिक रहा है। 1998 में शिव खेड़ा की यह किताब अंग्रेजी में आयी थी। उस समय इस किताब का इतना क्रेज था कि इसे ब्लैक में भी धड़ल्ले से बेचा गया था।

शिव खेड़ा ने कई किताबें लिखीं जिन्होंने लोगों को उन्नत जीवन जीने और सफलता के गुर सिखाये हैं। उनके सेमिनार अकसर होते रहते हैं।

किताब कहती है -
‘जीत आपकी’ पुस्तक आपकी मदद करेगी, यह सब करने के लिए:
1.अच्छी सोच के सात कदमों पर विशेषज्ञता हासिल कर खुद में आत्मविश्वास लायें।
2.अपनी कमजोरियों को खूबियों में बदलकर सफलता प्राप्त करें।
3.सही कारण के लिए सही कदम उठाकर अपनी ख्याति को बढ़ाएं।
4.परिस्थितियों को अपने ऊपर हावी होने देने के बजाय उनपर काबू पाना सीखें।
5.अपने आसपास के लोगों के साथ परस्पर मान-सम्मान बढ़ाकर आस्था और विश्वास को बनाएं।
6.अपनी रुकावटों को हटाकर असरदार बनें।

शिव खेड़ा को उनकी किताब के कारण दुनिया के जानेमाने अखबार नैशनल हैराल्ड ने लिखा: सफलता प्राप्ति के लिए बहुमूल्य उपहार।

इकोनोमिक टाइम्स लिखता है: एक नियमावली रचना, कार्ययोजना से जीवन के निर्माण के साथ।

ज़ीरोक्स बिजनेस इंडिया के स्टीफन टियरने कहते हैं: मेरे लिए सबसे अच्छी बात थी वे उदाहरण और ‘कैसे करें’ उपाय जो शिव खेड़ा से मिले, जिनसे मुझे ऐसे बदलाव लाने की क्षमता मिली, जिनकी इच्छा हम सब या तो संगठन में या खुद में या दोनों में लाने की रखते हैं पर उन्हें लागू करने और बनाए रखने को मुश्किल पाते हैं।

jeet-apki-shiv-khera
किताब यहां क्लिक कर खरीदी जा सकती है >>

शिव खेड़ा की यह किताब अपनी तरह की अलग किताब है जो सफलता के नुस्खे मजाकिया उदाहरणों के जरिये बताती है। जब आप पन्नों को पलटकर अगले पर जाते हैं, फिर उसके बाद, आप इस तरह अपनी उत्सुकता को बढ़ाते हैं।

वे कहते हैं: जीतने वाले कोई अलग काम नहीं करते, वे हर काम अलग ढंग से करते हैं।

‘जीत आपकी’ का चेहरा शिव खेड़ा हैं। किताब का आवरण शिव खेड़ा को मुस्कराते हुए दिखाता है। वे उन गिने-चुने लेखकों में हैं जिनकी किताबें उनके नाम और चेहरे से बिकती हैं।

शिव खेड़ा की किताब ‘जीत आपकी’ की 26 लाख से अधिक प्रतियां बिक चुकी हैं जिनका अनुवाद 16 भाषाओं में हो चुका है।

यदि आप सफलता पाने के आसान तरीके बिना थकावट के जानना चाहते हैं तो यह किताब जरुर पढ़ें।

No comments