द सीक्रेट (दैनिक प्रेरणा) : ज़िन्दगी को बदलने वाला विचार रोज़

यह पुस्तक आकर्षण के नियम के बारे में आपके ज्ञान को आपकी सोच से भी अधिक विस्तारित कर देगी.

लेखिका राॅन्डा बर्न ने अपनी पुस्तकों में आकर्षण के नियम पर विस्तार से चर्चा की है। उन्होंने ‘रहस्य’ नामक पुस्तक में उन सिद्धांतों को अपनाने की सलाह दी जिनसे हम कुछ भी हासिल कर सकते हैं। सबसे बड़ी बात यह कि प्रकृति हमारी इच्छा पूरी करने में नियमों में बदलाव करने को भी राजी हो सकती है।

‘द सीक्रेट -दैनिक प्रेरणा’ अंग्रेजी में प्रकाशित ‘The Secret: Daily Teachings’ का हिन्दी अनुवाद है। अनुवादक डाॅ. सुधीर दीक्षित हैं।

the-secret-rhonda-byrne-hindi-review

किताब कहती है: ‘द सीक्रेट (रहस्य) इस सिद्धांत को स्पष्ट करता है कि अपने जीवन को प्राकृतिक नियमों के अनुरुप कैसे जिएं, लेकिन हर व्यक्ति के लिए सबसे अहम बात है इसे जीना।’

‘द सीक्रेट -दैनिक प्रेरणा के जरिए राॅन्डा बर्न पूरे वर्ष के लिए सुविचारों की श्रंखला प्रस्तुत कर रही हैं, बुद्धिमत्ता भरी बातें और सभी को नियंत्रित करने वाले नियमों से तालमेल के साथ जीने की अंतर्दृष्टि साझा कर रही है, ताकि आप अपने जीवन के मालिक बन सकें।’

‘द सीक्रेट की शक्तिशाली वास्तविकताओं पर आधारित यह पुस्तक आकर्षण के नियम के बारे में आपके ज्ञान को आपकी सोच से भी अधिक विस्तारित कर देगी। वर्ष के प्रत्येक दिन -अधिक आनंद, अधिक समृद्धि और वैभव प्राप्त करें।’

राॅन्डा बर्न के पास शब्दों की ऐसी भाषा है जिसे उन्होंने आध्यात्म के साथ मिश्रित किया है। लेखिका संसार को प्रभावित करने के प्रयास में जुटी है। उद्देश्य स्पष्ट है -नकारात्मकता को सकारात्मक विचारों से समाप्त करना। जब मन सुधर जायेंगे, मन नियंत्रित होंगे तो समाज नियंत्रित होकर बेहतर कार्य करेगा।

dainik-prerna-hindi-review

लेखिका कहती है कि सृष्टि हमारी भावनाओं के माध्यम से हमसे संवाद करती है। हम कभी अकेले नहीं हैं। सृष्टि हमारा मार्गदर्शन कर रही है, लेकिन हमें केवल उसपर गौर करना है।

राॅन्डा बर्न ने ‘धन्यवाद’ शब्द को बहुत महान बताया है। वे कहती हैं- ये शब्द आपके जीवन मैं चमत्कार कर देगा, नकारात्मकता को मिटा देगा। सृष्टि की सारी शक्तियों का आह्वान करेगा की वे सारी चीजें आपकी ओर ले आयें।

रहस्य : जिसने हमको खुद से जानना सिखाया

एक बात जो इस पुस्तक का सार है की शिद्दत से महसूस कीजिये और कामना कीजिये की सब अच्छा है, यकीन मानिये सब अच्छा होगा, सोचा पूरा होगा तथा जीवन खुशियों और समृद्धि के समुद्र में गोते लगा रहा होगा। एक पन्ना रोज आपकी किस्मत को बदलेगा। हर पन्ना जिन्दगी के उलझे तारों को सुलझायेगा। मन के सितार को गुनगुनाने को मजबूर कर देगा। जिन्दगी को आसान कर देगा। जीवन का आनंद यही है।

‘दैनिक प्रेरणा’ में कहा गया है कि मनचाही चीज को हासिल करने के लिए मन के भावों को जगाना होगा। उसे मन से महसूस भी करना होगा। इसका अभ्यास करने के लिए लेखिका ने पाठकों से कहा है।

the-secret-hindi-book-review
पुस्तक में मशहूर वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन के कथन का जिक्र है- “मानव उस संपूर्ण का एक हिस्सा मात्र है, जिसे हम ‘सृष्टि’ कहते हैं. एक ऐसा हिस्सा जिसमें समय और दूरी की सीमा है. वह स्वयं और अपने विचारों व भावनाओं का अनुभव इस तरह करता है, मानो ये बाकी से अलग हों- उसकी चेतना एक तरह का दृष्टि भ्रम होती है. यह भ्रम हमारे लिए एक जेल की तरह है, जो हमें अपनी व्यक्तिगत इच्छाओं और हमारे चंद करीबी लोगों के स्नेह तक सीमित रखता है. हमारा उद्देश्य यह हो कि हम अपनी करुणा का दायरा बढ़ाकर इस कैद से खुद को आजाद करें, जिसमें सारे जीवित प्राणी और समूची प्रकृति समा जाए. कोई भी इसे पूरी तरह हासिल करने में सक्षम नहीं होता है, लेकिन इसकी कोशिश ही स्वतंत्रता का हिस्सा और आंतरिक सुरक्षा की बुनियाद है."

राॅन्डा बर्न ने सरल भाषा के द्वारा समझाने का प्रयास किया है। उन्होंने आनंद के लिए प्रत्येक दिन सप्ताह में थोड़ा समय निकालने की सलाह दी है। उसकी कल्पना में डूब जायें। ऐसा करके हम सृष्टि को अच्छा करने के लिए प्रेरित करते हैं।

"आपके भीतर जो कुछ है, जीवन आपको आईने में उसी का प्रतिबिम्ब दिखा रहा है."

आकर्षण के नियम को सर्वाधिक शक्तिशाली बताया गया है। लेखिका ने दूसरी सबसे बड़ी बात विचार व भावनाओं पर की है। देखा जाए तो यह पुस्तक अपार प्रेरणा का स्रोत है जो हमें हमसे मिलाती है। सबकुछ हमारे भीतर विद्यमान है, जरुरत उस आंतरिक ताकत को पहचानने की है।

यह पुस्तक हमारे जीवन को सकारात्मक ऊर्जा से भर सकती है। जीवन के रंगों को और उज्जवल करने के लिए राॅन्डा बर्न को पढ़ना जरुरी है। अच्छे विचारों को पढ़िये, उन्हें महसूस कीजिए। फिर देखिए आप अपनी जिंदगी के मालिक होंगे।

rhonda-byrne-the-secret
'द सीक्रेट -दैनिक प्रेरणा’
लेखिका : राॅन्डा बर्न
अनुवाद : डॉ. सुधीर दीक्षित
प्रकाशक : मंजुल प्रकाशन
पृष्ठ : 384
-----------------------------------------


किताब ब्लॉग  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या हमेंगूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...

No comments