ख़ास किताबें #1

five best hindi books
ये पुस्तकें आपको प्रेरित करेंगे और कुछ अच्छा करने को उत्साहित करेंगी.
किताबों का मौसम साल के बारह महीने जारी रहता है। समय पत्रिका आपके लिए लाया है पाँच ख़ास किताबें जिन्हें आप इन दिनों पढ़ सकते हैं। निश्चित तौर पर ये पुस्तकें आपको प्रेरित करेंगे, नया पढ़ने की ललक जगायेंगी और कुछ अच्छा करने को उत्साहित करेंगी। वाणी प्रकाशन ने हाल में कन्नड़ लेखक विवेक शानभाग के चर्चित उपन्यास 'घाचर-घोचर' का हिन्दी अनुवाद प्रकाशित किया है। वहीं अजय पाण्डे की पुस्तक ‘प्यार के अधूरे पल’ का हिन्दी अनुवाद भी वाणी प्रकाशन प्रकाशित कर चुका है। यह किताब एक दिलचस्प प्रेम-कहानी है। वरिष्ठ कथाकार महावीर राजी की कहानियों का संग्रह ‘ऑप्रेशन ब्लैकहोल’ पाठकों को तृप्त कर देगा। ‘रचना की ज़मीन’ और ‘मन के दस संसार’ पठनीय किताबें हैं। ये पाँच किताबें ख़ास हैं। इनके बारे में अधिक जानें -


घाचर-घोचर
इस उपन्यास का नाम सबसे बड़ी उत्सुकता पैदा करता है। वाणी प्रकाशन ने हिन्दी अनुवाद का आवरण इस तरह तैयार किया है कि उत्सकुता और बढ़ जाती है। प्रतिष्ठित अंग्रेजी पत्रिका ‘न्यू यॉर्कर’ की यह टिप्पणी मायने रखती है -‘इस त्रासदीय उपन्यास की क्लासिक कहानी, पूँजीवाद और भारतीय समाज, दोनों के लिए एक दृष्टान्त है।’ भारतीय समाज में पारिवारिक जीवन के सच को बयान करते हुए लेखक ने खूबसूरत उपन्यास की रचना की है। विवेक शानभाग की पुस्तक दुनिया भर में चर्चा का विषय रही है। साल 2017 में ‘घाचर-घोचर’ न्यूयॉर्क टाइम्स और द गार्डियन द्वारा सर्वश्रेष्ठ दस पुस्तकों में शामिल किया गया है। यह उपन्यास विश्व की 18 भाषाओं में अनूदित है।

लेखक : विवेक शानभाग
अनुवाद : अजय कुमार सिंह
प्रकाशक : वाणी प्रकाशन
पृष्ठ : 104
ISBN : 9789387889873
किताब यहॉं क्लिक कर प्राप्त करें >>

pyar ke adhure pal ajay pandey book

प्यार के अधूरे पल
अजय के. पाण्डे की कहानियाँ पाठकों को अपने आगोश में ले लेती हैं। वे अंग्रेजी में जानामाना नाम हैं। उनके द्वारा लिखी प्रेम कहानियों को पाठक महसूस कर पढ़ता है। कई बार उसे यह भी लगता है कि वह उनकी कहानी-यात्रा का हिस्सा है। अजय दिल की बात करतें, भावनाओं की बात करते हैं, दुख-दर्द, आदि को बयान करते हैं। कुल मिलाकर वे हमारी बात करते हैं, समाज की बात करते हैं। यह किताब एक सच्ची प्रेम कहानी है। यह दो दिलों के मिलने और उनके हमेशा के लिए जुदा होने की कहानी है। शुरु से आखिरी पन्ने तक पाठक अजय और भावना के संसार की खूबसूरत यात्रा करता है। यदि आपने अभी तक कोई प्रेम कहानी नहीं पढ़ी, तो ‘प्यार के अधूरे पल’ एक अच्छी शुरुआत होगी। उसके बाद आप अजय पाण्डे की सभी किताबों को पढ़ने से खुद को रोक नहीं पायेंगे। यह किताब 'You are the Best Wife: A True Love Story' का हिन्दी अनुवाद है।

लेखक : अजय के. पाण्डे
अनुवाद : सुमन वाजपेयी
प्रकाशक : वाणी प्रकाशन
पृष्ठ : 270
ISBN : 9789387409934
किताब यहॉं क्लिक कर प्राप्त करें>>

operation black hole hindi stories

ऑपरेशन ब्लैकहोल
कुछ कहानियाँ अलग तरह से लिखी जाती हैं। कुछ कहानियाँ ज़िन्दगी के उन हिस्सों को जोड़कर बुनी जाती हैं कि उनके हर किसी को जुड़ाव-सा लगता है। महावीर राजी की यह पुस्तक समाज को आईना दिखाती है। ऐसी कहानियाँ कम लिखी जाती हैं जिनमें ज़िन्दगी की परतों को बारीकी से जमा करके उन्हें पन्नों पर उकेरा जाता है। राजी ज़मीन से जुड़ी बात करते हैं। वे अलग तरह के रचना-संसार की बात करते हुए रोचकता पैदा करते हैं। उनके पास घटनाओं को मोड़ देने की ऐसी विशेषता है जिसे पढ़ना सुखद अहसास है। हर कहानी आपको सोचने पर मजबूर करती है।

लेखक : महावीर राजी
प्रकाशक : वाणी प्रकाशन
पृष्ठ : 144
ISBN : 9789387889439
किताब यहॉं क्लिक कर प्राप्त करें

mann ke das sansar buddhism book

मन के दस संसार
बौद्ध-मत को समझने का सरल भाषा में यह एक शानदार प्रयास है। यह रिचर्ड जी. कोस्टन की किताब ‘दैनिक जीवन में बुद्ध : निचिरेन दैशोनिन के बौद्ध-धर्म का परिचय’ का हिन्दी प्रस्तुतीकरण है। हालांकि यह अनुवाद ही है, मगर संजीव तुलस्यान ने कुछ जगहों पर भावों को अलग अंदाज़ में रखा है, जिससे यह पुस्तक और भी ख़ास हो जाती है। किताब सुख, दुख, स्वर्ग, नरक आदि के विषय में विस्तार से चर्चा करती है। यह हमें सांसारिकता से परे ले जाती हैं जहाँ हम खुद को शांत और सुकून भरे माहौल में पाते हैं। भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में यह किताब आपको नई दिशा देने में मदद करेगी।

प्रस्तुति : संजीव तुलस्यान
प्रकाशक : वाणी प्रकाशन
पृष्ठ : 80
ISBN : 9789387648388
किताब यहॉं क्लिक कर प्राप्त करें>>

rachna ki zameen sandhya singh

रचना की ज़मीन
इस पुस्तक में भाषा, समाज, कविता और किताबों पर लेखिका ने अपने विचार रखे हैं। संध्या सिंह कहती हैं कि ये पन्ने वर्षों से उनकी फाइलों में दबे पड़े थे। एक किताब के रुप में इन्हें एक जगह करना शुरु किया तो लगा मिजाज़ और विषय की भिन्नता के बावज़ूद एक बात जो पूरी सामग्री का अन्तःसूत्र बन सकती है वह रचना ही है। इसलिए इस किताब का र्शीषक ‘रचना की ज़मीन’ है। पुस्तक को तीन खंडों में रखा गया हैः
1 . भाषा और समाज पर सोचते हुए
2 . कविता को पढ़ते हुए
3 . किताबों से गुज़रते हुए

लेखिका : संध्या सिंह
प्रकाशक : वाणी प्रकाशन
पृष्ठ : 136
ISBN : 9788181439024
किताब यहॉं क्लिक कर प्राप्त करें

best hindi books vani prakashan

No comments