आयुर्वेद व योग द्वारा वजन घटाएँ

ayurveda yoga hindi book
योग एवं आयुर्वेद की चिकित्सा पद्धति द्वारा वजन घटाने के उपायों का वर्णन.
दुनिया में वजन घटाने के लिए सैकड़ों पुस्तकें और खान-पान के तरीके हैं, तो फिर एक और पुस्तक की जरुरत क्यों? आयुर्वेद के जरिए वजन घटाने की जरुरत क्यों है? जरुरत है, क्योंकि आयुर्वेद में न केवल शरीर के साम्य पर ध्यान दिया गया है, बल्कि इसमें समग्र स्वास्थ्य के लिए मन के तीनों आयामों के संतुलन को भी बेहद महत्वपूर्ण बताया गया है।

मोटापा एक महामारी का रुप ले रहा है। मोटापे से छुटकारे के लिए लोग तरह-तरह के उपचार करते देखे जाते हैं लेकिन अधिकांश का मानना है कि यह समस्या कम नहीं होती बल्कि कई लोगों की मुश्किलें बढ़ती जाती हैं। महिलाओं में यह बीमारी पुरुषों से अधिक है। गर्भधारण के बाद कई महिलाओं में यह बीमारी तेजी से बढ़ती है। आरामपसंद जीवन और जंकफूड़ आदि पदार्थों के बढ़ते प्रचलन ने इस बीमारी को बढ़ाने में सहयोग दिया है।

health books in hindi

डॉ. विनोद वर्मा ने योग एवं आयुर्वेद की संयुक्त चिकित्सा पद्धति के द्वारा वजन घटाने के उपायों का वर्णन 'आयुर्वेद व योग द्वारा वजन घटाएँ’ नामक पुस्तक में किया है। उनका मानना है कि इस समस्या के कारण और निदान पर 2600 वर्ष पूर्व महर्षि चरक ने वृहत शोधों के द्वारा विस्तार से बताया है। उसी आधार पर इस पुस्तक में योग्य चिकित्सक और लेखक डॉ. वर्मा ने वजन बढ़ाने वाले कारकों से लेकर निदान तक विस्तार से लिखा है। मोटापा ग्रस्त स्त्री पुरुषों के लिए यह पुस्तक बहुत उपयोगी है।

yoga ayurveda books in hindi

लेखिका ने बताया है कि वजन बढ़ने के मनोवैज्ञानिक कारण भी होते हैं। लालच के कारण बहुत ज्यादा खाने लगना मानसिक विकार है। इस पुस्तक में वजन बढ़ाने में अहम भूमिका निभानेवाले मनोवैज्ञानिक कारकों की भी चर्चा की गयी है। उन्होंने सात सप्ताह की आहार योजना के बारे में लिखा है जिसे पढ़ना बहुत जरुरी है।

आयुर्वेदिक अभ्यासों और योग तथा अन्य अभ्यासों के अंतर्संबंधित शोध और संकलन से यह पुस्तक अन्य मौजूदा पुस्तकों और तरीकों से अलग है। आयुर्वेद के प्राचीन ज्ञान पर आधारित यह पुस्तक लंबे समय से चली आ रही शरीर के वजन और उससे जुड़ी स्वास्थ्य समस्याओं का सहज समाधान उपलब्ध कराएगी।

health yoga books in hindi
आयुर्वेद व योग द्वारा वजन घटाएँ
लेखिका : डॉ. विनोद वर्मा
अनुवाद : महेन्द्र नारायण सिंह यादव
प्रकाशक : प्रभात प्रकाशन
पृष्ठ : 144
ISBN : 9789352663460

No comments