The Return : षड्यंत्र, अधिकार को प्राप्त करने की तैयारी तथा संघर्ष की कथा

the-return-narendra-kohli-book
नरेन्द्र कोहली की यह पुस्तक बहुत रोचक है जिसे पढ़ना एक बेहतरीन अनुभव है.
प्रख्‍यात उपन्‍यासकार नरेंद्र कोहली ने आधुनिक गद्य में महाभारत को फिर से स्थापित किया है। उन्होंने ‘महासमर’ श्रृंखला में संपूर्ण महाभारत को रोचक शैली में लिखा है। The Return उसी श्रंखला के दूसरे खंड ’महासमर : अधिकार’ का अंग्रेजी अनुवाद है। नरेन्‍द्र कोहली की यह रचना 1990 में पहली बार वाणी प्रकाशन ने प्रकाशित की थी। तब से अब तक यह बेहद चर्चित पुस्‍तकों में शुमार रही है।

यह पुस्‍तक पांडवों और कौरवों के बचपन को दर्शाती है। इसमें हम उनके झगड़े और द्रोणाचार्य की पृष्ठभूमि भी जान पायेंगे जो महाकाव्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
mahasamar-adhikar-narendra-kohli

'The Return' की कहानी हस्तिनापुर में अपनी माँ कुन्ती के साथ पांडवों के शैशव से आरम्भ होती है और वारणावत के अग्निकांड पर समाप्त होती है। यह खंड अधिकारों की व्याख्या, अधिकारों के लिए हस्तिनापुर में निरंतर होने वाले षड्यंत्र, अधिकार को प्राप्त करने की तैयारी तथा संघर्ष की कथा है।

यह पुस्तक बहुत रोचक है जिसे पढ़ना एक बेहतरीन अनुभव है। नरेन्‍द्र कोहली ने अपनी बेजोड़ शैली से यहाँ घटनाओं को और दिलचस्‍प बना दिया है।

the-return
the-return-by-narendra-kohli

No comments