नरेंद्र मोदी पर दो ख़ास किताबें

books-on-narendra-modi
'कहानी मोदी 2.0' और 'भारत कैसे हुआ मोदीमय' इन दिनों चर्चा में हैं.
भाजपा की जीत की कहानी बेहद दिलचस्प है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने पार्टी को नई पहचान दी है। प्रभात प्रकाशन ने बीजेपी, नरेंद्र मोदी और उनके लिए राजनीति के क्या मायने हैं, पर दो ख़ास किताबें प्रकाशित की हैं। 'कहानी मोदी 2.0' के लेखक हैं अकु श्रीवास्तव। दूसरी पुस्तक है 'भारत कैसे हुआ मोदीमय' जिसे संतोष कुमार ने लिखा है। दोनों ही किताबों में भारतीय जनता पार्टी के भीतर और बाहर की राजनीति के साथ-साथ अन्य पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की गयी है।

कहानी मोदी 2.0 की

2019 का लोकसभा चुनाव नरेन्द्र मोदी सरकार को फिर से केन्द्र में लाया। चुनाव के दौरान जो रणनीतियां बनीं, जिस तरह की चर्चायें हुईं और सबसे बड़ी बात, जो वादे किए गये, उनपर लेखक अकु श्रीवास्तव ने विस्तार से चर्चा की है।  यह पुस्तक नरेन्द्र मोदी के व्यक्तित्व की गहरी पड़ताल करती नज़र आती है। उन्होंने मोदी के कार्यकाल और कांग्रेस गठबंधन की सरकार पर भी प्रकाश डाला है। दोनों प्रमुख दलों की बीच-बीच में तुलना करते हुए अच्छा विश्लेषण किया गया है। पुस्तक में चुनावों को प्रभावित करने वाली मुख्य घटनाओं को भी दर्ज किया है। तफसील से अकु श्रीवास्तव ने भारतीय जनता पार्टी के बदलाव की कहानी भी कही है। पुस्तक में कई अनुभवी पत्रकारों और मीडिया से जुड़े दिग्गजों के लेख भी प्रकाशित किए गये हैं जो चुनावों और पार्टियों से जुड़ी हमारी समझ को बढ़ाने में सहायक हो सकते हैं। एन.के. सिंह, रशीद किदवई, विजय विद्रोही, प्रमोदी जोशी की कलम से निकले विचारों को इस पुस्तक में पढ़ा जा सकता है।

साल 2014 से लेकर 2019 तक राजनीति में जो प्रमुख घटनाएं घटीं उनका संक्षिप्त ब्यौरा भी दिया गया है। 2019 का चुनाव अभी तक हुए सभी चुनावों में अलग स्तर की राजनीति को हमारे सामने प्रस्तुत कर गया।

चुनाव 2019 : कहानी मोदी 2.0 की
लेखक : अकु श्रीवास्तव
प्रकाशक : प्रभात प्रकाशन
पृष्ठ : 280

यहाँ क्लिक कर पुस्तक प्राप्त करें : https://amzn.to/2JM2wYp

kahani-modi-2.0

bahart-kaise-hua-modimay

भारत कैसे हुआ मोदीमय : ऐतिहासिक जीत की अंतर्कथा

नरेन्द्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने भारत की राजनीति में नया इतिहास रचा है। यह इतिहास किसी पार्टी की जीत का नहीं, बल्कि विपक्ष के सामने मजबूती से खड़ा होकर उन्हें छोटा करने की कोशिश करना है। इसमें वे कामयाब हुए हैं। यही वजह रही कि प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस खुद की सिकुड़न को महसूस कर रही है। पार्टी का 2014 में जो हश्र हुआ वह सबने देखा और उसके बाद 2019 के आम चुनावों ने साबित कर दिया कि कांग्रेस में वह बात नहीं रही। भारतीय जनता पार्टी की मजबूती का राज कांग्रेस की हार नहीं, बल्कि नरेन्द्र मोदी और अमित शाह की रणनीति और राजनीतिक समझ है।

दैनिक भास्कर से जुड़े पत्रकार संतोष कुमार ने यह बताया है कि किस तरह भाजपा ने जीत पर जीत हासिल की। पार्टी के पास ऐसा क्या है जिसकी वजह से वह परास्त नहीं हो रही। साथ ही उन्होंने भाजपा की रणनीति पर विस्तार से चर्चा की है।

लेखक ने उन सभी तथ्यों और उन तमाम घटनाक्रमों का सिलसिलेवार ब्यौरा दिया है जिनके जरिए 2014 की मोदी की आंधी को 2019 में सुनामी में बदल दिया गया। संगठन और सरकार के कारगर समन्वय, छोटे दलों से तालमेल व अन्य रणनीतियां भाजपा को विजय दिला पाने में सफल रहे। इस पुस्तक में आधुनिक राजनीतिक प्रबंधन के तरीकों पर भी चर्चा की गयी है।

पुस्तक भाजपा की तमाम चुनावी रणनीतियों का खुलासा करती है तथा एक शानदार विश्लेषण भी मुहैया कराती है।

भारत कैसे हुआ मोदीमय : ऐतिहासिक जीत की अंतर्कथा
लेखक : संतोष कुमार
प्रकाशक : प्रभात प्रकाशन
पृष्ठ : 272

यहाँ क्लिक कर पुस्तक प्राप्त करें : https://amzn.to/2C89SkO

No comments