समय पत्रिका दिसंबर अंक (2021)

समय पत्रिका दिसंबर अंक 2021

समय पत्रिका के इस अंक में हमने चर्चित किताबों को स्थान दिया है। इनमें 'हौसले की ऊँची उड़ान', 'एक आइएएस एस्पीरेंट की रोमांचक सक्सेस स्टोरी', 'उलटी गिनती', 'गंगापुत्र भीष्म', '123किमी.', 'इतना तो याद है मुझे' आदि की चर्चा की है।

सुरेंद्र मोहन का उपन्यास 'हौसले की ऊँची उड़ान' बेहद रोचक और प्रेरणादायक पुस्तक है जिसे युवाओं को जरुर पढ़ना चाहिए। वहीं पीयूष रोहनकर की पुस्तक भी उत्साहित करती है।

बॉबी सिंह की पुस्तक 'इतना तो याद है मुझे' में सत्यजीत रे, बिमल रॉय, गुलज़ार, दिलीप कुमार, लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल, शम्मी कपूर, देवानंद, हृषिकेश मुखर्जी, अमिताभ बच्चन, मीना कुमारी आदि की अनसुनी-अनकही बातें हैं।

वहीं महान निवेशक वॉरेन बफ़ेट की पूर्व पुत्रवधु मैरी बफ़ेट द्वारा लिखित पुस्तक 'बफ़ेटोलॉजी' में उन्होंने बफ़ेट के निवेश के रहस्यों को उजागर किया है। डॉ. मृदुला दाढे-जोशी द्वारा लिखित पुस्तक 'रहें न रहे हम' में हिंदी फिल्म संगीत के अमर गीतों की दास्तान को दिलचस्प अंदाज़ में प्रस्तुत किया गया है। देवदत्त पट्टनायक की नई किताब 'भारतवर्ष के 32 तीर्थ स्थल' राष्ट्र के निर्माण की तीन सहस्राब्दियों की यात्रा है।

प्रभात प्रकाशन ने विश्व के सबसे महान् और शानदार आधुनिक आविष्कारकों में से एक एलन मस्क पर तीन पुस्तकें प्रकाशित की हैं —''एलन मस्क की बायोग्राफी', 'एलन मस्क के सक्सेस सीक्रेट्स' और 'एलन मस्क के प्रेरक विचार'। ये प्रेरणादायक पुस्तकें हमें सफलता, 

दृढ़-इच्छाशक्ति, विश्वास, दूरदर्शी सोच के बारे में विस्तार से बताती हैं।

साथ में नई किताबों की चर्चा।

समय पत्रिका यहाँ उपलब्ध है -

Amazon : https://amzn.to/3lMqshM

Magzter : https://www.magzter.com/IN/Samay-Patrika/Samay-Patrika/Fiction/All-Issues